lpg subsidy cancelled zingag cover

,

बड़ी ख़बर: मोदी सरकार खत्म करेगी LPG सब्सिडी, अब हर महीने बढ़ेंगे गैस सिलेंडर के दाम

लो भैया आखिरकार सरकार ने सब्सिडी वाले सिलेंडर की कीमत अगले साल मार्च तक हर महीने 4 रुपये बढ़ाने की घोषणा कर ही दी है| इसका मकसद मार्च, 2018 तक घरेलू गैस सिलेंडरों पर मिलने वाली रिहायत को खत्म करना है| सरकार ने सरकारी तेल कंपनियों को हर महीने सब्सिडी वाली एलपीजी गैस की कीमत चार रुपये प्रति सिलेंडर बढ़ाने का आदेश दिया है| मीडिया में आई रिपोर्ट्स के अनुसार यह आदेश इसलिए दिया गया है ताकि अगले साल मार्च तक सब्सिडी को समाप्त किया जा सके| लोकसभा में पूछे गए एक प्रश्न के लिखित जवाब में धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि हर महीने गैस के दाम में होने वाली बढ़त को गुना कर दिया गया है ताकि सब्सिडी को शुन्य पर लाया जा सके| बता दें, हर परिवार को साल में 12 एलपीजी सिलेंडर सब्सिडी पर दीये जाते है| इसके बाद जरूरत पड़ने पर मार्केट रेट पर इसे खरीद सकते हैं|

हर महीने बढ़ेंगे 4 रूपये

lpg subsidy cancelled zingag
via – Rediffmail

इस बारे में पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने सोमवार को लोकसभा में कहा, ”पिछले साल सरकार ने ऑयल कं‍पनियों को सब्सिडी पर मिलने वाले सिलेंडरों के दाम हर महीने 2 रुपये बढ़ाने का ऑर्डर दिया था लेकिन अब वह बढ़ोतरी चार रुपये कर दी है|” ये आदेश मार्च 2018 तक या सिलेंडर पर दी जा रही सब्सिडी खत्म होने तक जारी रहेगी|


राकेट की स्पीड से कैलकुलेटर चलाती है ये जापानी महिला, देखे Video

Jio Phone: कीमत 0 रूपए, कॉल और इन्टरनेट अनलिमिटेड फ्री! जाने कैसे करें प्री-बुकिंग


कितने मिलते हैं सब्सिडाइज्ड सिलेंडर


देश में हर परिवार को सालाना सब्सिडी वाले 12 सिलेंडर मिल सकते हैं, इसके बाद अगर सिलेंडर लेना हो तो वो बाजार भाव पर लेना होगा|| लेकिन अब हर घरेलू ग्राहक को एक ही कीमत पर एलपीजी मिलेगी। इसके मुताबिक कंपनियां 10 मौकों पर दाम बढ़ा सकती थीं| इस तरह अगले साल मार्च तक सिलेंडर की कीमत 32 रुपये बढ़ जाएगी|

सब्सिडी होगी खत्म

तेल कंपनियां चार रुपये की बढ़ोतरी तब तक करेंगी जब तक एलपीजी सब्सिडी पूरी तरह से समाप्त न हो जाए। वैसे सरकार चाहती है कि यह काम मार्च, 2018 तक हो लेकिन अगर तब तक सब्सिडी बनी रहती है तो यह मूल्य वृद्धि आगे भी जारी रहेगी। अभी सरकार की तरफ से हर सिलेंडर पर 86 रुपये की सब्सिडी दी जाती है। साफ है कि अगर सब्सिडी की यह दर इसी स्तर पर बनी रहती है तो तेल कंपनियों को 22 महीने तक चार रुपये की बढ़ोतरी करनी होगी।

Source: ABP

loading...

What do you think?

576 points
Upvote Downvote

Total votes: 0

Upvotes: 0

Upvotes percentage: 0.000000%

Downvotes: 0

Downvotes percentage: 0.000000%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *