lalit modi resigns from rajasthan cricket board

,

मोदी ने क्रिकेट को कहा अलविदा, हट सकता है राजस्थान क्रिकेट संघ से निलंबन

आईपीएल के पूर्व कमिश्नर रहे ललित मोदी ने लन्दन से सोशल मीडिया के द्वारा क्रिकेट को अलविदा कह दिया है| जिसकी जानकारी उन्होंने पहले ख़त लिख कर बीसीसीआई को दी| फिर उसी ख़त को उन्होंने इस्टाग्राम पर पोस्ट करते हुए क्रिकेट जगत को अलविदा कहा है| मोदी ने अपने ख़त में आईपीएल की कामयाबी और राजस्थान क्रिकेट संघ का जिक्र करते हुए कहा है कि उनके बाद आने वाली नई पीढ़ी को भी मौका मिलना चाहिए| मोदी राजस्थान क्रिकेट संघ आर सी एस के अध्यक्ष थे| गौरतलब है की ललित मोदी फ़िलहाल लन्दन में है| उनपर बीसीसीआई ने आजीवन प्रतिबन्ध लगाया हुआ है| ललित मोदी मनी लॉन्ड्रिंग केस में भी वान्टेड हैं| हालांकि मोदी कई बार कह चुके हैं कि उन्होंने आईपीएल डील्स में कुछ भी गलत काम नहीं किया है|

हट सकता है राजस्थान क्रिकेट संघ से निलंबन

Via – Twitter

ललित मोदी ने अपने ख़त में कहा कि मैंने राजस्थान क्रिकेट के लिए बहुत कुछ किया है, तब भी बीसीसीआई पैसा नहीं दे रहा था। करीब तीन साल पहले जब पूर्व आईपीएल कमिश्नर ललित मोदी आरसीए के अध्यक्ष चुने गए थे उसी दिन बीसीसीआई ने नवनिर्वाचित राजस्थान क्रिकेट संघ की कार्यकरिणी की पहली ही बैठक में नागौर जिला क्रिकेट संघ को निलंबित कर दिया है। ललित मोदी के इस्तीफे के बाद अब यही उम्मीद की जा सकती है कि अब आर सी एस से प्रतिबंध हट सकता है। बता दे कि इन्फोर्समेंट डायरेक्ट्रेट ने चेन्नई पुलिस की शिकायत के आधार पर ललित मोदी और अन्य के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग केस दर्ज किया था। मोदी पर 2009 में T-20 क्रिकेट टूर्नामेंट के ओवरसीज टेलीकास्ट राइट्स देने में धोखाधड़ी करने का आरोप है। 

रुचिर मोदी की हार तो नहीं कारण?

lalit modi resigns from rajasthan cricket board zingag
via – जनसत्ता

राहुल जौहरी के नाम लिखे पत्र में उन्होंने लिखा है कि मैंने अपने क्रिकेट जर्नी को बहुत इंज्वॉय किया है| अब समय आ गया है कि अपनी अगली पीढ़ी को यह जिम्मेदारी सौंप दूं इसलिए मैं तमाम पदों से इस्तीफा दे रहा हूं| मोदी के इस्तीफे को रुचिर की हार से भी जोड़कर देखा जा रहा है। आरसीए अध्यक्ष पद के चुनावों में रुचिर कांग्रेस के सीपी जोशी से हार गए थे। तभी से अटकलें थी कि जल्द ही मोदी अपना इस्तीफा देंगे। उधर, हार्इकोर्ट राजस्थान क्रिकेट एसाेसिएशन के सचिव आर एस नांदू के निलंबन से लेकर बीसीसीआर्इ द्वारा आरसीए के निलंबन तक के सभी अंदरुनी विवादों पर सुनवार्इ करेगा। कोर्ट ने आरसीए की बैठक बुलाने पर पाबंदी लगा दी है। वहीं बीसीसीआर्इ को पक्षकार बनाने के निर्देश दिए है। अब इस मामले में 23 अगस्त को सुनवार्इ होगी। न्यायाधीश मनीष भंडारी ने जयपुर जिला क्रिकेट एसोसिएशन की आेर से इकबाल के जरिए दायर याचिका पर यह अंतरिम आदेश दिया है

इससे पहले बीसीसीआई ने साफ कहा था कि जब तक ललित मोदी को आरसीए से बाहर नहीं किया जाता, तब तक राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन पर निलंबन जारी रहेगा। अब उम्मीद लगाई जा सकती है कि राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन पर से निलंबन हट जाएगा। 11अक्तूबर 2013 को सवाई मानसिंह स्टेडियम में अंतिम वनडे मैच खेला गया था। इसके बाद से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट पूरी तरह से बंद है। आईपीएल के मैच भी पिछले दो साल से यहां नहीं हुए। करीब तीन साल पहले जब पूर्व आईपीएल कमिश्नर ललित मोदी आरसीए के अध्यक्ष चुने गए थे उसी दिन बीसीसीआई ने आरसीए के निलंबित कर दिया था। ललित मोदी के इस्तीफे के बाद उम्मीद लगाई जा सकती है कि अब राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन से निलंबन हट सकता है।

loading...

What do you think?

576 points
Upvote Downvote

Total votes: 0

Upvotes: 0

Upvotes percentage: 0.000000%

Downvotes: 0

Downvotes percentage: 0.000000%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *