hong-kong-residence-who-live-in-sub-divided-shoebox-flats

, ,

हांगकांग में गरीब लोग रहते है कब्र जितने घर में, यहाँ खाना और पॉटी होता है एक ही कमरे में


हर किसी का सपना होता है कि खुद का एक घर हो, लेकिन इस सपने को बहुत कम लोग होते हैं, जो पूरा कर पाते हैं| कड़ी मेहनत करने के बावजूद बहुत से लोगों को अपने सिर पर छत नसीब नहीं होती| कुछ लोग तो ऐसे भी हैं, जिन्हें छत तो नसीब होती है मगर उस छत का दयारा इतना छोटा होता है की उसमे एक जानवार भी ठीक से समा न सके| ऐसा ही कुछ हाल चकाचौंध कर देने वाले शहर हॉन्ग-कॉन्ग का है | इस शहर के तकरीबन 200,000 लोग अमानवीय तरह से गुज़र बसर करने पर मजबूर हैं| ज़रा सोचिये, आप जिस जगह पॉटी करते हैं, उसी पॉटी सीट के पास ही खाना खाना पड़े| सोचकर ही घिन आ गई होगी| पर कुछ लोग ऐसे ही गुज़ारा करने पर मजबूर हैं| तस्वीरों से इनकी बेबसी साफ़ झलकती है|

hongkong slums
via – Picssr

हांगकांग के जनगणना विभाग की एक रिपोर्ट के अनुसार, कहने को तो लाखों लोगों को 88,000 छोटे-छोटे अपार्टमेंट्स में रहने के जगह दी गई है| मगर इन अपार्टमेंट्स का साइज़ किसी जानवर के बाड़े से भी छोटा है |

न खाने की जगह और न सांस लेने की, फिर भी जिए जा रहे हैं

hongkong slum house
via- Daily Mail

सोसाइटी फॉर कम्युनिटी आर्गेनाइजेशन की प्रदर्शनी में लगाई गई तस्वीरों से साफ़ तौर पर ज़ाहिर हो गया कि इस देश के लोग किस तरह से जानवरों से भी बदतर ज़िन्दगी बिता रहे हैं| इन घरों की लंबाई किसी गादी जितनी होती है और नहाना और खाना एक ही जगह पर करना होता है|

जहां खाना, वहीं पर नित्य क्रिया भी

hong-kong-residence-who-live-in-sub-divided-shoebox-flats
via – Stomp

पब्लिक हाउसिंग स्कीम का फ़ायदा न मिलने के कारण, यहाँ के गरीब लोग का ऐसे जीना मजबूरी बन गया हैं|

अकेलपन से ज़्यादा घुटन सताता है इन्हें

hongkong slum house
via- NY Daily News

ज्यादातर अपार्टमेंट्स एक बंद डिब्बे के सामान है जिसकी वजह से सबसे ज़्यादा दिक्कत सांस लेने में होती है|

ज़िन्दगी तूने मुझे कब्र से कम दी है ज़मीन, पांव फैलाऊं तो दीवार से सिर लगता है

hongkong slum house
via- Daily Mail

हॉन्ग कॉन्ग की सरकार अपने देशवासियों के साथ जैसा व्यवहार कर रही है, इसकी जितनी निंदा की जाए, कम है| कहने को तो ये घर है मगर असलियत में इससे बड़े तो लोगों की कब्रें होती हैं|

ज़िन्दगी में सुकून नहीं, फिर भी जिए जा रहे हैं

hongkong slum house
via- Archilovers

Source: Daily Mail

loading...

What do you think?

576 points
Upvote Downvote

Total votes: 0

Upvotes: 0

Upvotes percentage: 0.000000%

Downvotes: 0

Downvotes percentage: 0.000000%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *