,

पहेली बार नहीं है ……म्यूजिक इवेंट्स पर हो चुके हैं पहेले भी ये बड़े हमले


britain attack

ब्रिटेन के मैनचेस्टर शहर में 22 मई की रात एक म्यूजिक कॉन्सर्ट में बम धमाका हो गया. मैनचेस्टर अरेना में हो रहे पॉप स्टार आरियाना ग्रैंड के इस कॉन्सर्ट में धमाके से 19 लोगों की मौत हो गई, जबकि 50 से ज्यादा लोगों के घायल होने की रिपोर्ट है. ब्रिटेन पुलिस इसे आतंकी हमला मानते हुए जांच कर रही है. ब्लास्ट के बाद मैनचेस्टर की नाकेबंदी की गई है. हालांकि, धमाका की वजह अभी तक पता नहीं चली है.

धमाके के बाद मची भगदड़ के बीच लोग

लोगों को लगा पटाखे हैं

कॉन्सर्ट में मौजूद एक शख्स ने बीबीसी को बताया कि वहां मौजूद सभी म्यूजिक पर झूम रहे थे. तभी धमाके की तेज आवाज आई. पहले तो लोगों को लगा कि ये गुब्बारे या पटाखे हैं. कुछ लोगों को लगा कि ये स्पीकर फटने की आवाज थी, लेकिन जल्द ही वहां सबको पता चल गया कि ये बम धमाका था. इसके बाद वहां भगदड़ मच गई. इस कॉन्सर्ट में बच्चे भी आए थे.

क्या कह रही है पुलिस और मीडिया

ब्लास्ट के बाद मैनचेस्टर पुलिस ने इमरजेंसी सर्विस एक्टिव कर दीं और स्टेशन से गाड़ियों का आना-जाना रोक दिया. पुलिस ने शहर के कैथेड्रल गार्डन में भी एक बम डिफ्यूज करने का दावा किया है. कुछ अपुष्ट रिपोर्ट्स के मुताबिक पुलिस को मैनचेस्टर अरेना से एक जिंदा बम भी मिला है. वहीं ब्रिटिश मीडिया का कहना है कि इस धमाके के पीछे आत्मघाती हमलावर हो सकता है.

धमाके के वक्त आरियाना परफॉर्म कर रही थीं. हालांकि, धमाके में उन्हें कुछ नहीं हुआ. वह सुरक्षित बच गईं. कॉन्सर्ट में मौजूद कुछ और लोगों ने बताया कि ये बड़ा धमाका था. वहां मौजूद कुछ लोगों ने ब्लास्ट के बाद के वीडियो भी बनाए, जिसमें लोग चीखते-चिल्लाते हुए भागते दिख रहे हैं. आरियाना जहां परफॉर्म कर रही थीं, मैनचेस्टर अरेना, ये यूरोप का सबसे बड़ा इनडोर हॉल है. 1995 में खुले इस हॉल में अब तक कई बड़े कॉन्सर्ट और खेल आयोजित हो चुके हैं.

परफॉर्मेंस के दौरान आरियाना

म्यूजिक से जुड़े इवेंट्स में पहले भी हो चुके हैं हमले

मई 2010: पाकिस्तान के लाहौर में एक मशहूर कैफे के पास साप्ताहिक कव्वाली और गज़ल का कार्यक्रम चल रहा था, जब वहां बम धमाका किया गया. पुलिस ने कहा कि इन धमाकों का मकसद इवेंट में भाग लेने वाले लोगों को डराना होता है.

मई 2015: अफगानिस्तान की राजधानी काबुल के एक गेस्ट हाउस पर हुए हमले में 11 लोगों की मौत हो गई थी. इनमें से 4 भारतीय बताए गए थे. मरने वााले लोग गेस्ट हाउस में एक अफगानी सिंगर के इवेंट में शरीक होने के लिए इकट्ठा हुए थे.

नवंबर 2015: ISIS ने पेरिस में 6 सीरियल बम ब्लास्ट किए, जिनमें 150 से ज्यादा लोगों की मौत हुई. ये धमाके म्यूजिक कॉन्सर्ट में शामिल होने जा रहे लड़कों को निशाना बनाकर किए गए थे, जिसके बाद फ्रांस में इमर्जेंसी लागू कर दी गई थी.

जुलाई 2016: जर्मनी के शहर ऐन्सबक में एक शख्स ओपेन-एयर म्यूजिक फेस्टिवल में विस्फोटक सामग्री अपने साथ लेकर आया था, जिसमें धमाके से एक शख्स की मौत हो गई थी और करीब 10 लोग घायल हुए थे.

सालभर पहले ही किया गया था हाई अलर्ट

एक रोचक बात ये है कि सालभर पहले 29 मई, 2016 को मेट्रोपॉलिटिन पुलिस के डिप्टी असिस्टेंट कमिश्नर नील बेसू ने म्यूजिक फैन्स के लिए अलर्ट जारी किया था. उन्होंने कहा था, ‘गर्मियों में होने वाले म्यूजिक फेस्टिवल आतंकी हमलों के लिहाज से हाई अलर्ट पर रहेंगे. ऐसे इवेंट्स पुलिस के एजेंडे में टॉप पर रहेंगे. हमें ISIS के आत्मघाती हमलावरों से सावधान रहने की जरूरत है.’ और अब सालभर बाद यहां ऐसा ही एक हमला हो गया.

अपने कॉन्सर्ट में धमाके के बाद आरियाना का ट्वीट:

loading...

What do you think?

42 points
Upvote Downvote

Total votes: 0

Upvotes: 0

Upvotes percentage: 0.000000%

Downvotes: 0

Downvotes percentage: 0.000000%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *